अमरीकी “आवाज़” से क्या रिश्ता है आपका, मोहतरम केजरीवाल साहब ?

Posted: October 22, 2012 in Education, Geopolitics, Politics, Youths and Nation

नई दिल्ली. शुक्रवार को “इंडिया अगेंस्ट करप्शन” सदस्य अरविंद केजरीवाल को एक कड़वा पत्र लिखने के बाद कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने उन पर सवालों की झड़ी लगाते हुए कहा है कि उनमें (केजरीवाल में) हिटलर की झलक नज़र आती है. केजरीवाल को महत्वाकांक्षी बताते हुए दिग्विजय सिंह ने पूछा है कि अपनी 20 साल की नौकरी में उनका तबादला दिल्ली के बाहर क्यों नहीं हुआ? दिग्विजय सिंह ने यही सवाल उनकी पत्नी के विषय में पूछा है कि उनका भी तबादला दिल्ली से बाहर क्यों नहीं हुआ?
दिग्विजय सिंह ने केजरीवाल से पूछा है कि क्या उन्होंने अपने गैर-सरकारी संगठन को शुरू करने से पहले सरकार से इजाजत ली थी और क्या उनके संगठन में विदेशी धन लगा है?
केजरीवाल को लिखे एक पत्र में दिग्विजय सिंह ने कहा था, “सिविल सोसाइटी मूवमेंट में आपके सहयोगी सेवानिवृत्त अधिकारी वाईपी सिंह ने आपको हिटलर कहा, मैं आपमें हिटलर की झलक देख सकता हूं.“ उन्होंने कहा, “पहले मैं समझता था कि आप जनता से जुड़े मुद्दों को उठाने वाले पुरोधा हैं, लेकिन आपके बारे में मेरी राय अब बदल गई है. आपकी अपनी महत्वाकांक्षाएं हैं.”
दिग्गी राजा ने फोर्ड फाउंडेशन से “इंडिया अगेंस्ट करप्शन” आईएसी को मिले फंड की जानकारी मांगी है। इसके अलावा अमेरिका के ‘आवाज’ एनजीओ से मिले फंड की भी जानकारी मांगी है। ‘आवाज’ वह एनजीओ बताया जाता है, जिसने सीरिया, लेबनान में आंदोलन के लिए पैसे दिए हैं। बताया जाता है कि सीरिया में इस एनजीओ ने विद्रोहियों को 30 लाख रुपये दिए।
दिग्विजय सिंह ने दावा किया कि अरविंद केजरीवाल अपनी महत्वाकांक्षाओं की खातिर, आरटीआई आंदोलन में अपनी गुरु रहीं अरुणा रॉय को साथ लेकर नहीं चल सके, फिर उन्होंने किरण बेदी से किनारा किया और अब अन्ना हज़ारे को भी अलग कर दिया. (हस्तक्षेप.कॉम ने कल ही सवाल उठाया था कि क्या स्वामी अग्निवेश, जस्टिस संतोष हेगड़े, किरण बेदी, अन्ना हजारे के बाद केजरीवाल अब भूषन पिता-पुत्र से मुक्ति चाहते हैं?)
दिग्विजय ने लिखा है कि आप लोगों पर आरोप लगाते हैं, उनसे सवाल पूछते हैं। मेरे पास भी कई सवाल हैं, क्या आप उनका जवाब देंगे या फिर संघ, अन्ना और रामदेव की तरह असहज होकर खारिज कर देंगे।
कुछ मुख्य सवाल इस प्रकार हैं –
क्या ये सच है कि 20 साल की नौकरी के दौरान आपकी पोस्टिंग दिल्ली से बाहर नहीं हुई? 
क्या आपकी पत्‍‌नी का ट्रासफर कभी दिल्ली से बाहर नहीं हुआ?
आपने अपनी स्टडी लीव की रिपोर्ट सरकार को क्यों नहीं दी?
क्या आप बिना इजाजत स्टडी लीव पर चले गए?
आपका एक बार चंडीगढ़ ट्रासफर हुआ, लेकिन आपने ज्वाइन नहीं किया?
क्या ये सच है कि चंडीगढ़ ट्रासफर के बाद वीआरएस लेने की कोशिश की?
क्या सरकारी नौकरी करते हुए आपने एनजीओ बनाने की इजाजत ली थी?
क्या एनजीओ कबीर को फोर्ड फाउंडेशन से तकरीबन दो करोड़ रुपये मिले?
क्या इस पैसे का इस्तेमाल भ्रष्टाचार विरोधी आदोलन में हुआ?
क्या ये सच है कि आपने इंडिया अगेंस्ट करप्शन के लिए पैसा डाइवर्ट किया?
सरकारी नौकरी करते हुए विदेशी संस्था से पैसे लेने की इजाजत ली?
क्या ये सच है कि आप दो करोड़ रुपये लेकर अन्ना के पास गए थे और अन्ना ने पैसे लेने से इंकार कर दिया था?
आपकी कोर कमेटी के एक सदस्य ने आप पर 20 करोड़ रुपये की धाधली का आरोप लगाया है, आपने इसका जवाब क्यों नहीं दिया?
आपके किसी वेबसाइट पर दानदाताओं के नाम क्यों नहीं हैं?
आप अमेरिकी एनजीओ आवाज के साथ रिश्तों का खुलासा करेंगे?
अमेरिकी एनजीओ आवाज ने आपको किस तरह की मदद दी?
क्या ये सच है कि आपने दिल्ली में तहरीर चौक बना देने जैसी बात कही है?
अब देखना यह है कि पंद्रह मंत्रियों और कई नेताओं के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप मढ़ने वाली अरविन्द केजरीवाल एंड कंपनी,  केजरीवाल के खिलाफ सीबीआई जांच की मांग करती है या नहीं?

Source : http://hastakshep.com/?p=25776

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s