शहरों को साफ-सुथरा रखने को बनेगी टास्क फोर्स

Posted: December 10, 2012 in Education, Geopolitics, Politics, Youths and Nation

ULB

 

अजय जायसवाल, लखनऊ शहरों को साफ-सुथरा रखने के लिए अब नगरीय निकाय अध्यक्ष की अध्यक्षता में नगरीय स्वच्छता टास्क फोर्स होगी। टास्क फोर्स में चुने हुए पार्षदों के साथ ही शहर के प्रतिष्ठित व्यक्ति भी रखे जाएंगे। टास्फ फोर्स पूरे शहर की स्वच्छता की स्थायी व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए संबंधित निकाय को अपनी सिफारिश देगी। इसके लिए दो महीने में कम से कम एक बैठक टास्क फोर्स को करनी होगी। रोजगार व बेहतर बुनियादी जन सुविधाओं के मद्देनजर सूबे के गांवों से शहरों में रहने वालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। ऐसे में अनियोजित तरीके से बढ़ते शहरों की सफाई व्यवस्था ही नहीं बल्कि अन्य मूलभूत जन सुविधाएं भी चरमराती जा रही हैं क्योंकि बढ़ती आबादी को ध्यान में रखते हुए ज्यादातर नगरीय निकायों द्वारा उचित कदम नहीं उठाए जा रहे हैं। साफ-सुथरा रखने की मुकम्मल व्यवस्था न होने से शहरों की गंदगी में इजाफा होता जा रहा है। ऐसे में शहरवासियों में बीमारियां का खतरा भी बढ़ता जा रहा है। अब नगरीय निकायों को निकाय स्तर पर नगरीय स्वच्छता टास्क फोर्स गठित करने के निर्देश दिए गए हैं। शहरों को शत-प्रतिशत स्वच्छ बनाने के लिए नगर पालिका अध्यक्ष की अध्यक्षता में टास्क फोर्स होगी जिसके संयोजक अधिशासी अधिकारी होंगे। स्थानीय निकाय निदेशक अजय दीप सिंह द्वारा जारी आदेश के मुताबिक टास्क फोर्स में कुछ चुने हुए पार्षद, शहर के जाने-माने प्रतिष्ठित व्यक्ति, व्यापारिक व औद्योगिक संगठनों के प्रतिनिधि, स्वास्थ्य व पर्यावरण के लिए कार्यरत स्वयं सेवी संस्थाएं, स्वच्छता सीवरेज, जलापूर्ति, ठोस अपशिष्ट कूड़ा प्रबंधन, ड्रेनेज का कार्य करने वाली संस्थाओं के वरिष्ठ प्रतिनिधि, कैंटोमेंट बोर्ड व केंद्र-राज्य की प्रमुख संस्थाओं के प्रतिनिधि, सफाईकर्मी, रिसायक्लिंग एजेंट, कबाड़ी आदि यूनियन के प्रतिनिधि व शिक्षा-सांस्कृतिक संस्थाओं के प्रतिनिधि रखे जाएंगे। सुझाएगी सफाई की स्थायी व्यवस्था दो महीने में कम से कम एक बार बैठक कर टास्क फोर्स पूरे शहर की स्थायी तौर पर स्वच्छता की व्यवस्था सुनिश्चित करते हुए संबंधित निकाय से सिफारिश करेगी। टास्क फोर्स इस संबंध में प्लानिंग व क्रियान्वयन प्रक्रिया की मानीटरिंग करते हुए दिशा-निर्देश भी देगी। टास्क फोर्स को शहरी स्वच्छता प्लान (सिटी सैनीटेशन प्लान) को अनुमोदित करने के साथ ही इन्फार्मेशन सिस्टम इम्प्रूवमेंट प्लान (आईएसआईपी) को लागू करना सुनिश्चित करना होगा।

Source: http://in.jagran.yahoo.com/epaper/index.php?location=30&edition=2012-12-10&pageno=8#id=111756860872482848_30_2012-12-10

 

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s